मुख्यपृष्ठ ज्ञानधार दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश प्राप्त करने की प्रक्रिया

दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश प्राप्त करने की प्रक्रिया

लेखक: लेखसागर समूह
Delhi University Admission

दिल्ली विश्वविद्यालय जिसे हम दिल्ली यूनिवर्सिटी या डीयू के नाम से भी जानते हैं दिल्ली विश्वविद्यालय भारत के प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों में एक है केंद्रीय सरकार तथा राज्य सरकार के अधीन है। कक्षा बारहवीं के बाद छात्र अलग-अलग तरह के विषयों में दाखिला लेना चाहते हैं, जिसमें से मेडिकल, IIT आदि शामिल है। साथ ही साथ बहुत सारे छात्रों का यह सपना होता है कि वह दिल्ली विश्वविद्यालय से अपनी हायर स्टडीज की डिग्री प्राप्त करें। इसी विषय पर बात करते हुए आज हम आपका मार्गदर्शक करेंगे कि आप दिल्ली विश्वविद्यालय में कैसे दाखिला प्राप्त कर सकते हैं, दाखिला लेने के लिए कौन-कौन से डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ेगी साथ-ही-साथ दिल्ली विश्वविद्यालय की फीस क्या है। इन सभी विषयों पर हम इस लेख में आपको संपूर्ण जानकारी देंगे।

सर्वप्रथम आपको ज्ञात होना चाहिए कि दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लेने की दो प्रक्रिया है, पहला प्रवेश परीक्षा के आधार पर और दूसरा योग्यता के आधार पर, यहां योग्यता का अर्थ है आपके बारहवीं बोर्ड परीक्षा का प्राप्त प्रतिशत।

दिल्ली विश्वविद्यालय में परीक्षा के आधार अर्थात ENTRANCE BASED में कैसे दाखिला होता है?

प्रवेश परीक्षा के आधार पर दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लेने हेतु आपको दिल्ली विश्वविद्यालय की वेबसाइट से अप्लाई करना होगा, इसके पश्चात आप रजिस्ट्रेशन फीस भरकर प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं और प्रवेश परीक्षा के प्राप्त अंक के अनुसार आपको दाखिला मिलता है।

प्रवेश परीक्षा के आधार पर इन निम्न विषयों में दाखिला दिया जाता है:

  • बी० ए०। (ऑनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स
  • बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस)
  • बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (वित्तीय निवेश विश्लेषण) (बीबीए)
  • बीटेक। (सूचना प्रौद्योगिकी और गणितीय नवाचार)
  • बी० ए०। (ऑनर्स) मानविकी और सामाजिक विज्ञान
  • प्राथमिक शिक्षा में स्नातक
  • बीएससी – शारीरिक शिक्षा, स्वास्थ्य शिक्षा और खेल में विज्ञान स्नातक
  • बी० ए०। (ऑनर्स) मल्टीमीडिया और मास कम्युनिकेशन
  • हिंदुस्तान संगीत में बैचलर ऑफ आर्ट्स (ऑनर्स) – वोकल / इंस्ट्रुमेंटल (सितार / सरोद / गिटार / वायलिन / संतूर)
  • कर्णतक संगीत में बैचलर ऑफ आर्ट्स (ऑनर्स) – वोकल / इंस्ट्रुमेंटल (वीना / व्हायोलिन)
  • पर्क्यूशन संगीत में कला स्नातक (ऑनर्स) (तबला / पक्वाज)
  • दिल्ली स्कूल ऑफ जर्नलिज्म में पत्रकारिता में पांच वर्ष एकीकृत कार्यक्रम

दिल्ली विश्वविद्यालय में योग्यता के आधार अर्थात MERIT BASED में कैसे दाखिला होता है?

दिल्ली विश्वविद्यालय में योग्यता के आधार अर्थात मेरिट लिस्ट विषयों में दाखिला लेने हेतु आपके 12वीं के प्राप्त अंक अर्थात प्रतिशत को ध्यान में रखते हुए दाखिला दिया जाता है। दिल्ली विश्वविद्यालय प्रतिवर्ष महाविद्यालय का कट ऑफ लिस्ट निकालती है, यहां कट ऑफ लिस्ट का अर्थ है उस महाविद्यालय में दाखिला लेने हेतु कम से कम प्रतिशत।

योग्यता के आधार पर दाखिला लेने के लिए सर्वप्रथम आपको दिल्ली विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर पंजीकरण (रजिस्टर) करना होगा इसके लिए आपसे रजिस्ट्रेशन (पंजीकरण) फीस चार्ज किया जाएगा जो समाज के विभिन्न-विभिन्न वर्गों के लिए भिन्न है , जो की 75 रुपये से ले कर 200 तक हो सकता है।

एक बार पंजीकरण हो जाने के बाद आपको कट ऑफ लिस्ट के लिए इंतजार करना होगा, कट ऑफ लिस्ट निकल जाने के बाद आप कट ऑफ लिस्ट देख सकते हैं, यदि आपके 12वीं का प्राप्त प्रतिशत कट ऑफ के बराबर या उससे अधिक हो तो आप दिल्ली विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर अपनी चॉइस फिल कर सकते हैं और विकल्प फिल करने के बाद उस पेज का प्रिंट आउट निकाल कर आप सीधा अपने मनचाहे कॉलेज में जाकर दाखिला ले सकते हैं।

दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लेने के लिए किन-किन दस्तावेजों या डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है?

दिल्ली विश्वविद्यालय में एडमिशन लेने के लिए निम्न दस्तावेजों को दिल्ली विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड करना होता है साथ ही साथ जब आप कॉलेज दाखिला करवाने जाते हैं तो वह भी आपको इन दस्तावेजों को जमा कराना होता है:

  • कक्षा दसवीं का मार्कशीट
  • कक्षा बारहवीं का मार्कशीट
  • जाति प्रमाण पत्र (यदि आप आरक्षण कैटेगरी में आते हैं)
  • चरित्र प्रमाणपत्र
  • सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी एससी / एसटी / पीडब्ल्यूडी / सीडब्ल्यू / केएम प्रमाणपत्र (आवेदक के नाम पर)
  • ओबीसी (गैर-मलाईदार परत) प्रमाण पत्र (आवेदक के नाम पर) केंद्रशासित के रूप में
  • स्कूल / कॉलेज से ट्रांसफर सर्टिफिकेट के साथ-साथ बोर्ड / विश्वविद्यालय से माइग्रेशन सर्टिफिकेट उन छात्रों से आवश्यक है जिन्होंने दिल्ली से वरिष्ठ माध्यमिक परीक्षा उत्तीर्ण की है
  • कम से कम दो पासपोर्ट आकार स्वयं प्रमाणित तस्वीरें।

ध्यान दें: कई बार दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला की प्रक्रिया बारहवीं बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट आने के पहले से ही शुरू हो जाता है और छात्रों को उनका बारहवीं का मार्कशीट प्राप्त नहीं हुआ होता इस स्थिति में छात्र प्रोविजनल सर्टिफिकेट या ऑनलाइन रिजल्ट का प्रिंटआउट भी अपलोड कर सकते हैं।

दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लेने की फीस क्या है?

दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लेने हेतु सर्वप्रथम आपको ऑनलाइन अप्लाई करना होता है जिसमें आपको ₹75 से लेकर ₹200 तक चार्ज किया जाता है दाखिला कंफर्म हो जाने के बाद आपको कॉलेज की फीस की फीस जमा करनी होती है जो ₹7000 से लेकर ₹20000 या अधिक हो सकता है जो की अलग-अलग कॉलेज द्वारा निर्मित है।

यदि आपके मन में कोई और सवाल हैं तो आप निचे कमेंट में पूछ सकते हैं।

Leave a Comment