मुख्यपृष्ठ ज्ञानधार जाने मोदी जी के बजट में किसके लिए और क्या कुछ है खास

जाने मोदी जी के बजट में किसके लिए और क्या कुछ है खास

लेखक: लेखसागर समूह
Pm Modi, Hand, Angry

बजट से सभी को बड़ी उम्मीद थी आखिर इतने दिन बेंको की लाइन में लगे रहने के बाद कोई राहत की उम्मीद ही थी ये बजट। हम न बजट की बुराई करने के पक्ष में है, न तारीफ़ क्यूंकि उससे कुछ हासिल नहीं होता। हम सिर्फ आपको यहाँ ये बता रहे हैं की छात्रों और महिलाओं के लिए इस बजट में क्या है।

पहले बात करते हैं छात्रों की

परीक्षाओं के लिए नेशनल टेस्टिंग सिस्टम (National Testing System) बनेगा इसका अर्थ है कि देश के अब छात्रों को देश के अलग-अलग विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में दाखिला के लिए अलग-अलग परीक्षाएं नहीं देनी पड़ेंगी। देश में सरकारी और निजी मेडिकल, एमबीए, एमसीए तथा इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन के लिए अलग-अलग कॉलेजों और यूनिर्वसिटी की परीक्षा देनी होती है। अब मात्र एक टेस्ट से ही स्टूडेंट्स को रैंक के आधार पर यूनिवर्सिटी, कॉल्लेगेस और इंस्टिट्यूट्स आदि में एडमिशन मिल जायेगा

देश में पहले से मौजूद सरकारी हाई और हायर सेकेंडरी स्कूलों की स्तिथि सुधारने के लिए फण्ड की व्यवस्था की जाएगी।

युवाओं को स्वरोजगार शुरू करने के लिए सर्कार १०० इंडिया स्किल सेण्टर स्थापित करेगी

अगर आप टेक्सटाइल सेक्टरमें अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो आपके लिए ख़ुशी की खबर है कि हमारे वित्त मंत्री जी ने इस क्षेत्र में कई नई योजनाओं की बात की है।

अगर आप डेयरी उद्योग से जुड़ना चाहते हैं, तो खुश हो जाइए क्यूंकि इस बजट में डेयरी उद्योग के लिए 8000 करोड़ बजट रखा गया है।

और देश के सभी युवाओं के लिए एक बड़ी ही राहत भरी खबर ये है कि भारत नेट प्रोजेक्ट के लिए 10000 करोड़ का वितरण किया जायेगा ताकि देश के अधिकतम लोग इन्टरनेट की सेवाओं का लाभ ले सकें। हाँ अब इसका लाभ कैसे उठाते है वो आपके ऊपर है।

देश के ग्रामीण क्षेत्रो में इन्टरनेट की अधिकतम पहुँच सुनिश्चित की जाएगी। इसके अंतर्गत डेढ़ लाख गांवो में इन्टरनेट पहुंचाने की योजना है।

गुजरात और झारखंड में दो नए एम्स खोलने की योजना है, तो अगर आप इन मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं, तो आपके लिए ये ख़ुशी की खबर हो सकती है।

विदेश में नौकरी , पढ़ाई और बिजनेस आदि करने के लिए पासपोर्ट की अवसक्ता होती है किन्तु वर्तमान में पासपोर्ट बनवाने के लिए लोगो को कई चाकर लगाने पड़ते हैं। इसलिए भारत सर्कार अपने नई बजट में डाकघरों में पासपोर्ट बनाने का प्रावधान लाई है।

पासपोर्ट बनवाने के लिए अब आपको चक्कर नही लगाने पड़ेंगे

आप स्वयं प्लेटफार्म के तहत 350 ऑनलाइन डाकघर में जाकर पासपोर्ट के लिए आवेदन दे सकते हैं। मेडिकल में पीजी की 5000 सीटें बढा नये कोर्स शुरू किये जायेंगे।

संकल्प योजना के माध्यम से 3.5 करोड़ युवाओं को ट्रेनिंग दी जायेगी।

ये तो बात हुई छात्रों की अब हम बात करते हैं कि महिलाओं के लिए इस बजट में क्या नया है

  • ग्रामीण और शहरी दोनों जगह की महिलाओं को कोई भी सीधा लाभ नहीं दिया गया है बस योजनाएं ही बनाई गई हैं।
  • महिला और बालविकास के लिए 1.84 लाख करोड़ रखे गए हैं।
  • लाइफ स्टाइल को बढाने की किसी भी चीज़ को लेकर कोई राहत नहीं है।
  • हाँ बीमारियों को खत्म करने के लिए कई योजनाओं की बात की है।
  • डिजीटल पेमेंट से शौपिंग करने पर ट्रांसेक्शन चार्ज को हटाने की कोई बात नहीं की

कुल मिलाकर इस बजट में ऐसा कुछ नहीं है की सब खुश हो जाएं। हां, कुछ बुरा भी नहीं है पर जो किया वो इतना छोटा-छोटा है कि किसी को भी कोई बड़ा फायदा या नुक्सान नहीं होगा

Leave a Comment