मुख्यपृष्ठ जेंटलमैन करियर को बर्बाद कर सकते हैं यह आदतें

करियर को बर्बाद कर सकते हैं यह आदतें

लेखक: लेखसागर समूह
Indian Office Employees In Office

मतौर पर घर के बाद ऑफिस हमारी वह जगह होती है जहां आप सबसे अधिक समय गुजारते हैं। आप काफी सारे लोगों से बातें करते हैं, आप के बात करने और चलने-फिरने तक को काफी लोग नोटिस करते हैं। ऐसे में जरूरी होता है कि आप ऑफिस में अपनी आदतें ना केवल अच्छी रखें, बल्कि लोगों के प्रति व्यवहार भी इजी होना चाहिए।

ऑफिस में कई बार आप की बुरी आदतें आप को लोगों से दूर कर सकती हैं, हो सकता है कि आप की बुरी आदतें आपके करियर को भी बर्बाद कर दें। हम आपको बता रहे हैं, कि ऑफिस में ऐसे कौन-कौन सी बुरी आदतें हैं जिनमें से आपको बचना चाहिए।

ऑफिस लेट पहुंचना

ऑफिस लेट पहुंचना एम्प्लोयी की सबसे बुरी आदत मानी जाती है। कभी-कभी का तो ठीक है लेकिन उसके लिए भी अपने बॉस को इन्फॉर्म करना जरूरी होता है। लगातार लेट पहुंचने से हो सकता है कि आपका अप्रेजल रुक जाए यदि आपने अपनी इस आदत को नहीं सुधारा तो हो सकता है कि आपकी अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ जाए।

शिकायतकर्ता बनना

अक्सर देखा जाता है कि कुछ एम्प्लोयी बॉस या किसी साथी से अन्य साथी की हर वक्त शिकायत करते रहते हैं। यदि आपकी किसी से कोई शिकायत है तो उसे बॉस से जरूर करें लेकिन हर समय शिकायतकर्ता की भूमिका अदा ना करें। ऐसा करना आपके इनसिक्योरिटी और अंप्रोफेशन रवैया को दर्शाता है। किसी की बार-बार शिकायत करने के बजाय उसका समाधान तलाशें।

सीट से गायब रहना

कुछ एम्प्लोयी होते हैं कि वह ऑफिस में तो रहते हैं लेकिन सीट पर नहीं बैठते यानी लगातार इधर से उधर घूमते रहते हैं और अन्य लोगों से बात या ताक-झांक करते रहते हैं। ऐसे एम्प्लोयी कभी चाय पीने तो कभी सिगरेट या दोस्तों से गॉसिप के लिए बार-बार डेस्क से उठते रहते हैं। ऐसे एम्प्लोयी की एक आदत उनके करियर को भारी पड़ सकता है, यदि नहीं ऑफिस में ज्यादा गॉसिप करना भी अनप्रोफेशनल रवैया को दर्शाता है।

छुट्टी के लिए झूठ बोलना

कुछ एम्प्लोयी होते हैं जो छुट्टी के लिए लगातार झूठ बोलते हैं, ऐसा करके आप हो सकता है कि खुद को स्मार्ट समझे लेकिन बॉस को बेवकूफ ना समझे इस आदत की वजह से आपकी विश्वसनीयता कम हो जाती है। हर बार छुट्टी के लिए बॉस को उल्लू बनाने की आदत छोड़ दें तो बेहतर होगा।

शोर मचाना खुशफुसान

ऑफिस में शोर मचा कर दूसरों को डिस्टर्ब ना करें यही नहीं कई बार आपका खुशफुसान भी दूसरों को परेशान कर सकता है। खुद भी काम करें और दूसरों को भी करने दें। ऊंची आवाज में बात करना या जोर से चिल्लाने पर आप दूसरों के काम में भी दखल डालते हैं, जिससे लोगों को परेशानी होती है। ऐसे एम्प्लाइज को लगता है कि वह दूसरों का बुरा कर रहे हैं, लेकिन असल में वह लोग सबके सामने खुद को नेगेटिव दिखा रहे होते हैं।

बॉस का जासूस बनना

कई एम्प्लोयी को लगता है कि नौकरी के साथ-साथ अगर वह बॉस के जासूस बन जाए तो उनकी राह आसान रहेगी लेकिन यह दावा अक्सर उल्टा ही पड़ सकता है। बॉस की नजर में आपकी इमेज एक इनसिक्योर व्यक्ति के तौर पर बन सकती है आमतौर पर ऐसा वह लोग करते हैं जिन्हें अपनी काबिलियत पर भरोसा नहीं होता इसलिए बहुत से चुगली करने से बचें और उनसे अन्यों की बुराई ना करें।

पॉलिटिक्स ना करें

अगर आपको काम अच्छी तरह से आता है और आप इसे पूरा करते हैं तो कोई भी आप की इमेज खराब नहीं कर सकता। बॉस को पता होता है कि कौन सा एम्प्लोयी क्या और कितना काम कर रहा है, इसलिए पॉलिटिक्स में पड़ने की बजाय आप अपना काम पूरा रखें और हमेशा कॉंफिडेंट रहें इससे आप किसी भी बात का सटीक और तर्कपूर्ण जवाब दे सकते हैं।

गुस्से में ना दे जवाब

स्वाभाविक है कि ऑफिस में काफी एम्प्लोयी को गुस्सा आता है, ऐसे में जरूरी है कि आप अपने गुस्से पर काबू रखें और कभी भी गुस्से में जवाब ना दें। चाहे वह सहकर्मी हो या पियोन ही क्यों ना हो। ऑफिस में बातचीत के दौरान अजीब से एक्सप्रेशन देना और गुस्से में जवाब देना कभी ठीक नहीं होता ऐसा करना आपके कैरियर को और सेहत दोनों के लिए ही खतरनाक हो सकता है।

Leave a Comment